कैसे बनाएं लोगों से अच्छे संबंध

 सर्वप्रथम मेरा आपसे एक प्रश्न है कि अच्छे संबंध बनाना क्यों जरूरी है? चलिए  इसका उत्तर हम देते हैं जब आप सफलता की राह में आगे बढ़ते है तो कई बार आपको मुश्किलों का सामना करना पड़ता है तो कई बार ऐसा होता है कि आपको असफलता हाथ मिलती है आपने जहां से शुरू किया था वही आप दोबारा पहुंच जाते हैं। यह स्थिति बेहद ही निराशाजनक होती है| इस समय आप अपने आप को अकेला महसूस करते हैंं| जीतने की चाह आपके अंदर से खत्म हो जाती है। ऐसी स्थिति में यदि कोई आपका हाथ थाम ले और फिर से खड़ा होने के लिए आपको प्रेरित करे तब आपके अंदर एक नई उमंग जाग जाती है  और आप फिर से मेहनत करने के लिए तैयार हो जाते हैं और एक बार फिर जोखिम उठाते हैं। यदि  आपका उस व्यक्ति के साथ संबंध अच्छा नहीं होता तो शायद ही आप दोबारा उठ पाते। अच्छे संबंध के कारण ही उस व्यक्ति ने आपके बुरे वक्त में  साथ दिया। यदि आपके उस व्यक्ति के साथ अच्छे संबंध नहीं होते तो भला वह क्यों आपके साथ खड़ा होता यह व्यक्ति कोई भी हो सकता है चाहे आपका परिवार हो समाज हो  या कोई अन्य हो। 

अब बात करते हैं अच्छे संबंध बनाने के लिए किन किन बातों का हमें सदैव ध्यान रखना चाहिए-

अच्छे संबंध बनाने


लोगो की परवाह कीजिये-  

यदि आप किसी से कहते है कि आप उससे  प्यार करते हैं किंतु उसकी परवाह नहीं करते तो आप वास्तव में उससे प्यार करते ही नहीं । अच्छे संबंध बनाने के लिए जरूरी है कि आप लोगों की परवाह करना शुरू कर दे जब आप ऐसा करेंगे तभी लोग आपकी परवाह करेंगे तभी वह आपके अच्छे-बुरा कैसा भी वक्त हो साथ नहीं छोड़ेंगे जैसे जैसे आप उन्हें समझना शुरू करेंगे वैसे वैसे आप उनके दिल में अपने लिए अहमियत बना लेंगे। 


मदद के लिए सदैव तैयार  रहे - 

जब आप दूसरों की सहायता करते हैं तभी दूसरा आपकी सहायता के लिए तैयार होता है हम सभी एक दूसरे के सहारे से आगे बढ़ते चले जाते हैं जब भी आपसे कोई मदद मांगने आए आपको  बेझिझक उसकी सहायता करनी चाहिए। आपको किसी गलत सोच से मदद नहीं करनी चाहिए न हीं भविष्य में उससे मिलने वाले लाभ की आशा रखनी चाहिए ।बिना किसी स्वार्थ के जितना आपकी क्षमता हो उसी हिसाब से सहायता करें इससे प्रत्यक्ष रूप से तो कोई लाभ नहीं मिलता लेकिन  अप्रत्यक्ष रूप से आपको फायदा किसी न किसी रूप में अवश्य पहुंचता है। 


किसी को भी एक बार में ना परखे-

 अक्सर देखा जाता है अच्छे संबंध न बनने का कारण है कि आप लोगों को एक बार में ऊपर ऊपर से परखने का कार्य करते हैं जब तक आप उस व्यक्ति के साथ समय नहीं बिताएंगे जब तक आप उसके विचारों को नहीं समझेंगे जब तक आप उसकी कार्य शैली से अवगत नहीं होंगे तब तक आप अच्छे संबंध बनाने में असफल होंगे। अच्छे संबंध के लिए आवश्यक है कि आप लोगों के मनोभाव को  समझने का प्रयास करें कि सामने वाला आखिर चाहता क्या है? कैसे सोचता है शायद इससे आपको एक अच्छा पार्टनर मिल जाए ऐसा हो सकता है जिसके बारे में आप गलत धारणा बनाए हुए थे वह व्यक्ति आपके लिए महत्वपूर्ण साबित हो। 

बेहद ही कम कौन अच्छे संबंध जब आप उनकी

ध्यान से सुनने की आदत डाले-

 दुनिया में बोलने वाले बहुत लोग हैं लेकिन सुनने वाले व्यक्ति  बेहद ही कम जिसे देखो वह कुछ न  कुछ कहना चाहता है अब सब बोलेंगे तो सुनेगा कौन  अच्छे संबंध  के लिए आवश्यक है कि आप लोगों को ध्यान से सुने उनकी बातों को समझे।  उन्हें आश्वासन दिलाया कि वह आपको समझते हैं जब आप उनकी    हर परिस्थिति में मदद के लिए तैयार होंगे  तब  आप अच्छे कनेक्शंस ही नहीं बिल्ड करेंगे बल्कि लोगों का भरोसा जीतने में भी कामयाब होंगे। 

अब आप अच्छे संबंध बनाना सीख गए हैं आपको एक और अच्छे संबंध का फायदा बताता हूं आप कभी भी डिप्रेशन, हार्ट डिजीज जैसी खतरनाक बीमारियों से कभी ग्रसित नहीं होंगे वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन  ने वीडियो गेमिंग को मेंटल हेल्थ इश्यू घोषित कर दिया है ऐसा इसलिए क्योंकि ज्यादातर बच्चे अधिक समय तक वीडियो गेम खेलने के कारण डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं क्योंकि जब वे बाहर की दुनिया में निकलते हैं तब उन्हें अनेकों कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है जिनका उनको  सामना करना बिल्कुल भी नहीं आता।  बाहर के लोगों से वह परिचित ही नहीं होते तो संबंध अच्छे भला कैसे होंगे मानसिक तनाव के चलते कभी कभी आत्महत्या का  कदम भी उठा लेते हैं मेरा कहने का तात्पर्य है कि यदि आपके संबंध अच्छे होंगे तो आपको मुश्किलों का सामना करने में कोई कठिनाई नहीं होगी आप उन लोगों की सहायता से आसानी से हर समस्या को हल कर देंगे आशा करता हूं। मेरा यह ब्लॉग आपको पसंद आया होगा अगर इस ब्लॉग में त्रुटि हो गई हो तो उसके लिए हम क्षमा प्रार्थी है। आप अपने सजेशन कमेंट्स बॉक्स में हमें देते रहिए आपके सजेशन हमारी टीम के लिए दिशा निर्देश का कार्य करेंगे और हमें बेहतर कार्य करने के लिए भी प्रेरित करेंगे। तो इसी के साथ हम आपसे विदा लेते हैं मिलते हैं एक नए ब्लॉग मैं। 







 

Comments

Popular posts from this blog

अद्भुत ज्योतिर्लिंग बाबा बैद्यनाथ की कहानी

अमीर बनने के पाँच सिंद्धांत

कहानी ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग की